loading...
Loading...

Friday, 9 June 2017

आखिरकार "लव जिहाद" का खतरा आ गया समझ, केरल में ईसाई संगठनो ने खोला मोर्चा

सबसे पहले आप सभी को ये जानना जरूरी है कि आखिर ये लव जिहाद है क्या ? आज भी बहुत से लोग ये तो जानते हैं की लव जिहाद कुछ होता है लेकिन ये नहीं जानते आखिर होता क्या है ?
तो चलिए आज सबसे पहले आपको हम ये बता दें की लव जिहाद किस मरज की बीमारी है !

लव जिहाद उसे कहते हैं जिस में मुस्लिम युवक किसी भी तरह से गैर मुस्लिम लड़की को अपने झांसे में लेता है और उससे शादी करके उसका धर्म परिवर्तन करवा देता है । लव जिहाद जितना बोलने में आसान है उतना ही घातक है क्यूँकि एक हिंदू लड़की मुस्लिम के प्यार के चक्कर में पड़कर मुस्लिम बन जाती है और फिर मुस्लिम संतान को जन्म देती है इस तरह हिन्दुओं को डबल नुक़सान होता है ।

जब भी कोई मुस्लिम युवक हिन्दू लड़की या फिर किसी और समुदाय की लड़की को अपने प्यार के जाल मे फँसाता है दो बहुत ही कम बार ऐसा होता है कि वो एक मुस्लिम नाम से या फिर मुस्लिम रहते हुए उस लड़की को अपने प्यार के जाल में फसाए आज के समय सबसे ज्यादा लव जिहाद का शिकार हिन्दू लड़कियां हो रही हैं और उसकी वजह भी ओ खुद ही हैं.


मुस्लिम लड़के हिन्दू नाम से उन्हें अपने जाल में फसाते हैं शादी करते हैं और जबरन धर्म परिवर्तन भी करवा देते हैं.लव जिहाद के खिलाफ कई बार हिन्दू संगठनों और बीजेपी ने आवाज उठाई तो देश का एक सेक्युलर वर्ग और कांग्रेस जैसी राजनितिक पार्टियाँ बोलती हैं लव जिहाद कुछ नहीं होता लेकिन केरल की ये खबर उन सबके मुहं पर तमाचा है.



अब हिन्दुओं के बाद ‘लव जिहाद’ की बढ़ती घटनाओं को रोकने के लिए, केरल के कुछ ईसाई समूहों ने संघ परिवार (आरएसएस ) द्वारा जारी की गयी ‘हेल्पलाइन’ सुबिधा की तरह अपनी इसाई लड़कियों को मुस्लिम लड़कों से बचाने हेतु एक हेल्पलाइन शुरू करने की योजना बनायी है । इस कदम का मुख्य उद्देश्य ईसाई लड़कियों और मुस्लिम लड़कों के बीच प्रेम संबंधों को टालना है ।

ये ख़बर उन लोगों के मुँह पर करारा तमाचा है जो लोग हिन्दू संगठनों के ऊपर ये बोलकर कि लव जिहाद जैसा कुछ नहीं होता सवाल उठाते रहते हैं। असल में आज समय की पुकार है सभी गैर मुस्लिम समुदाय को एक होकर मुस्लिम लड़कों दुवारा फैलाये जा रहे लव जिहाद के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद कर देनी चाहिए तभी इस भयानक षड्यंत्र से रक्षा की जा सकेगी ।

Source : asianetnews.tv