loading...
Loading...

Friday, 5 May 2017

मजहब के नाम पर 2 भाइयों ने लुटी महिला की आबरू, और फेंक दिया घर से बाहर

हरदोई. तीन तलाक के मुद्दे पर पूरे देश में बहस छिड़ी हुई है। जिसके बाद से मुस्लिम महिलाये भी इसके खिलाफ खुल कर सामने आने लगी है। वहीं ताजा मामला हरदोई के शहरी इलाके से सामने आया है जहां पर पीड़िता को पहले पति ने तलाक दिया, इसके बाद पीड़िता के साथ पति के भाई ने हलाला के नाम पर शादी कर लिया, और महज दो दिन बाद ही उसने भी तलाक दे दिया।

क्या है मामला

-रेहाना नाम की महिला की निकाह 2009 में हरदोई के रहने वाले सगीर अहमद के साथ हुआ था।

-पीड़िता का आरोप है कि कुछ दिनों बाद ही उसका पति उसे दहेज के नाम पर उसे प्रताड़ित करने लगा।

-रेहाना ने बताया कि इस दौरान उसका पति उसे लोहे की पाइप से मारता था और कई बार रात में घर से निकाल देता था।

-कुछ समय बाद जब पीड़िता गर्भवती हुई तो उसका पति उसे माइके छोड़ वहीं पर तलाक बोल दिया।

हलाला के नाम पर छोटे भाई से कराई शादी


-समाज और कानून के दबाव में कुछ पैसों की मांग के बाद उसका पति साथ में रखने को तैयार हो गया।

-लेकिन शरीयत के कानून के मुताबिक पीड़िता को उसके भाई के साथ निकाह करने को कहा।

-रेहाना अपने बेटे के भविष्य को देखते हुए उसके छोटे भाई के साथ निकाह करने के लिए तैयार हो गई।

-लेकिन उसके छोटे भाई ने भी दो दिन साथ रखने के बाद उसे तलाक दे दिया और घर से निकाल दिया।

पति ने की दूसरी शादी

-रेहाना ने बताया कि पहले पति ने कुछ दिन पहले दूसरी शादी कर ली है।

-वहीं रेहाना जब अपने बच्चें और खूद की गुजर-बसर करने के लिए पति से पैसे की मांग की तो भगा दिया।

-पीड़िता अब पुलिस से लेकर सभी दरवाजों पर न्याय की दरकार लिए दर दर भटक रही है।

-वहीं पुलिस अधीक्षक ने पीड़िता की फरियाद पर दहेज उत्पीडन और मारपीट का केस दर्ज़ करने का आदेश दे चुके है