loading...
Loading...

Thursday, 16 March 2017

हार से बौखलायी मायावती EVM के खिलाफ अब ठक-ठकाएंगी सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा

उत्तर प्रदेश: यूपी चुनावों में इस्तेमाल EVM मशीनों में बीजेपी द्वारा की गयी कथित गड़बड़ी के आरोप पर मायावती ने कहा है कि वो अब अदालत का रुख अखित्यार करेंगी क्योंकि बीजेपी ने लोकतंत्र की हत्या की है ,बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि उनकी पार्टी हर महीने की 11 तारीख को काला दिवस मनाएगी.मायावती ने कहा भविष्य में भाजपा EVM मशीनों से छेड़छाड़ न कर पाए इसलिए वो अदालत जाएँगी और इसके खिलाफ आवाज़ उठाएंगी ,मायावती ने कहा हमने 11 तारीख को चुनाव आयोग से इस बारे में शिकायत भी की थी और चुनाव परिणाम रोक देने को भी कहा था मगर चुनाव आयोग से हमे संतोषजनक जवाब नहीं मिला इसलिए अब हम अदालत जायेंगे।

उत्तरप्रदेश में शर्मनाक हार की समीक्षा करने के लिए बसपा सुप्रीमो ने आज एक बैठक बुलाई थी इस दौरान मायावती ने कहा कि भाजपा ने लोकतंत्र की हत्या करके देश के साथ धोखाधडी करके जीत हासिल की है देश को भविष्य में इस तरह की धोखाधड़ी से बचाने के लिए पार्टी अदालत जाएगी और भाजपा की इस धोखाधड़ी का पर्दाफाश करके ही रहेगी ,मायावती ने कहा कि बेईमानी से हासिल की गयी जीत को छुपाने के लिए बीजेपी अब कह रही है कि अगर EVM से कोई छेड़छाड़ की गयी होती तो वो पंजाब ,गोवा और मणिपुर में भी वैसा कर देती।

मायावती ने आगे कहा कि जनता भाजपा को इतना भोला न समझे अगर वो अन्य छोटे राज्यों में भी ऐसा कर देते तो भाजपा की चोरी पकड़ में आ जाती और जनता के सवालों का उचित जवाब देने की स्थिति में नही होते ,भाजपा ने दूसरे छोटे राज्यों में EVM में इसलिए गड़बड़ी नहीं की क्योंकि उसे बचाव में भी कुछ दिखाना था।


मायावती ने आगे कहा कि "पार्टी के लोग और कार्यकर्ता कह रहे हैं कि उन्होंने बसपा को ही वोट दिया तो वोट भाजपा को कैसे जुड़ गया ,मायावती बोली भाजपा की यह जीत धोखाधड़ी और लोकतंत्र की हत्या करके हासिल की गयी जीत है।

यूपी विधानसभा में मायावती की नाक इस तरह कटेगी उन्होंने कभी सपने में भी नहीं सोंचा होगा क्योंकि पार्टी को यूपी विस की 403 सीटों में से केवल 19 सीटें ही मिल पायीं और बसपा फ़िलहाल खत्म होने के कगार पर पंहुंच गयी है इतना बड़ा गम ऊपर से नोटबंदी में बर्बाद काली कमाई और रहा बचा पैसा चुनाव में खर्च हो गया अब आगे का सफ़र कैसे कटेगा जब भी मायावती इस बारे में सोंचती हैं उन्हें तुरंत दिमागी दौरा पड़ने लगता है और एकदम बोल उठती हैं कि बीजेपी ने EVM मशीनों में गडबडी की है ,मायावती को अपनी हार का कारण हिन्दू विरोधी नीतियाँ नहीं दिख रही हैं।