loading...
Loading...

Sunday, 19 February 2017

खुलाशा :मुस्लिम होने के कारण नहीं, बल्कि पाक और दाऊद कनेक्शन के कारण अमरीका उतरवाता है शाहरुख़ के कपडे

मुस्लिम होने के कारण नहीं, बल्कि पाक और दाऊद कनेक्शन के कारण अमरीका उतरवाता है शाहरुख़ के कपडे
हम आये दिन अक्सर सुनते रहते हैं की अमेरिका में बालीवुड किंग शाहरुखान की तलाशी लेने के लिए घंटों एयरपोर्ट पर रोका गया. इतना ही नहीं अकेरिका की सुरक्षा जांच एजेंसियों ने तलाशी लेने के लिए शाहरुख को नंगा तक कर दिया. ऐसा शाहरूख के साथ एक बार नहीं कई बार हो चुका है.

पर आपने कभी सोचा है की ऐसा बार बार क्यों होता है. हर बार अमेरिका में शाहरुख़ खान की तलाशी क्यों ली जाती है. और भी तो भारतीय कलाकार अमेरिका जाते रहते हैं उनकी तो कभी इस तरह से तलाशी नहीं ली गई. इटरनेट से जुटाई जानकारी के अनुसार पता चला की इस तलाशी के पीछे एक बहुत बड़ी बजह है .

और यह बजह शाहरूख खान को स्वयं भी मालूम है कि क्यूँ उनकी अमेरिका में रोक कर बार बार तलाशी ली जाती है. पर वो जान बूझ कर इस बात को भारत में लोगों के साथ शेयर नहीं करना चाहते. क्योंकि उनको डर है कि भारत के लोगों को यह बात पता चल गई तो शाहरूख खान को अपने फैन को जवाब देना भारी पड़ जाएगा.बालीवुड के जायदातर कलाकार उसके संपर्क में थे. और दुबई जाकर अंडरवल्ड डान दाउद इब्राहिम की पार्टियों में न केवल शामिल होते थे बल्कि उसके लिए स्टेज शो भी किया करते थे. ख़बरों के अनुसार बताया जाता है कि ऐसे ही एक स्टेज शो में शाहरूख खान भी बंबई से दुबई गए थे. जिस शो में शाहरूख खान गए उसको पर्दें के पीछे से पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI ने आर्गेनाइज कराया था. ये तो सभी जानते हैं कि दाउद पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI का ही एजेंट है.

इस शो के जरिए जो पैसा आया उसका प्रयोग आतंकवादियों की फंडिग के लिए किया गया. ये बात अमेरिका और इजराइल की खुफिया एजेंसी को पहले से ही पता है. क्योंकि बाद में ओसामा बिन लादेन को लेकर अमेरिका को पता चला था कि वह पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई की मदद से ही उसके यहां छिपा हुआ था.

बस यही कारण है कि शाहरूख उस वक्त से ही अमेरिका के रडार पर हैं. आज भारत भले ही इस प्रकार के मामले को अपने यहां गंभीरता से नहीं ले लेकिन अमेरिका एक बार अपने रडार पर आने के बाद लोगों पर हमेशा ही शक की नजर रखता है.

आपको याद होगा कि जब अमेरिका में वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हमला हुआ था तभी से अमेरिका में मुसलमानों को शक की नजर से देखा जाता है. इस हमले को जिन लोगों ने अंजाम दिया था उनका संबंध मुस्लिम आतंकवादियों से था. इसलिए जिन लोगों का कभी भी किसी न किसी रूप में आतंकियों से प्रत्यक्ष या परोक्ष संबंध आतंकियों से रहा है अमेरिका ने उनको भी शक के दायरे में ला दिया.

यहां तक की शाहरूख खान में मामले में भी ऐसा हुआ जान पड़ता है. इसलिए अमेरिका में शाहरुख़ खान की तलाशी बार बार ली जाती है. और अब तो अमेरिका में ट्रम्प के राष्ट्रपति बनने के बाद शाहरुख खान की मुश्किलें और बढ़ने वाली हैं. हो सकता है अमेरिका में शाहरुख़ खान की एंट्री ही बैन कर दी जाए .

शाहरूख खान को अमेरिका में बार बार रोके जाने के पीछे असल वजह क्या है इसको जानने से पहले आप को बता दें कि इस घटना को लेकर जहां बालीवुड में खासी नाराजगी हुई वहीं भारत के लोगों ने इसका विरोध किया कि अमेरिका में शाहरुख़ खान की तलाशी हर बार क्यों ली जाती है. शाहरूख खान ने हमेशा ही बताया है कि उनको अमेरिका में बार बार इसलिए रोका जाता है कि क्योंकि वे मुसलमान है और उनके नाम के पीछे खान टाइटल लगा है.

वे एक मुसलमान है इसलिए अमेरिका उनको जानबूझकर शर्मसार करता है. तो आईये अब हम आपको बताते हैं हैं कि अमेरिका में तलाशी के नाम पर शाहरुख़ खान की क्यूँ बार बार पेंट उतरवाई जाती है. दरअसल शाहरूख खान इस खबर पर कभी अपना मुंह नहीं खोलेगे. गौर रहे 90 के दशक में बालीवुड में अंडरवल्ड की तूती बोलती थी.

No comments: