loading...
Loading...

Monday, 27 February 2017

त्या की साजिश में बाल-बाल बचीं ममता बनर्जी| बंगाली हिंदुवो की थी साजिश


पटना [जेएनएन]। नोटबंदी के खिलाफ देशव्यापी अभियान चला रहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी बुधवार की शाम पटना ने कोलकाता लैटते वक्त बाल-बाल बचीं। ईंधन कम होने के बावजूद उन्हें लेकर पटना से कोलकाता पहुंचे विमान केा तत्काल लैंडिंग की अनुमति नहीं दी गई। विमान करीब आधे घंटे तक महानगर का चक्कर लगाता रहा।
इस घटना को तृणमूल कांग्रेस ने ममता बनर्जी की हत्या की सजिश करार दिया है। इसे लेकर आज लोकसभा में विपक्ष ने सवाल किए हैं। डीजीसीए ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं। इस बीच पटना एयरपोर्ट के अधिकारियों ने बताया कि ममता की फ्लाइट ने एक घंटे विलंब से उड़ान भरी थी। इंडिगो के प्रवक्ता ने कहा कि ममता बनर्जी को लेकर जाने वाली फ्लाइट की लैंडिंग सामान्य रही। इसमें विलंब एयर ट्रैफिक के कारण हुआ।
यह है घटना
जानकारी के अनुसार कोलकाता के एनएससीबीआइ एयरपोर्ट पर बुधवार की रात इंडिगो एयरलाइन्स का वह विमान कम ईंधन के बावजूद आधे घंटे से अधिक समय तक आसमान में चक्कर लगाता रहा। विमान में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सवार थीं। विमान ने कम ईंधन व इसमें ममता के होने की सूचना एटीसी को दी गई, लेकिन उसने तत्काल लैंडिंग की अनुमति नहीं दी।
पटना एयापोर्ट से मिली जानकारी के अनुसार विमान ने पटना से निर्धारित समय से एक घंटे देरी से शाम 7.35 बजे पर उड़ान भरी। उसे रात नौ बजे से कुछ पहले उतारा गया

तृणमूल कांग्रेस ने लगाया यह आरोप

तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मंत्री फिरहद हकीम ममता के साथ ही विमान में थे। उन्होंने विमान के उतरने में एटीसी से अनुमति मिलने में देरी को मुख्यमंत्री को मारने का एक षड्यंत्र करार दिया। हकीम ने कहा कि पायलट ने कोलकाता से 180 किमी दूर घोषणा की थी कि विमान पांच मिनट में उतर जाएगा, लेकिन उसे आधे घंटे से अधिक समय बाद उतारा गया। हकीम ने आरोप लगाया कि यह मुख्यमंत्री द्वारा नोटबंदी के विरोध के कारण उनकी हत्या का षड्यंत्र था।
अगर आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगे या इस पोस्ट से सहमत है तो नीचे दिए गए Like बटन से , इस पोस्ट को लाइक करे । धन्यवाद

No comments: