loading...
Loading...

Saturday, 25 February 2017

यूपी 2012-17 : मस्जिदे-मदरसे-हज हाउस बनते गए, और पूरे प्रदेश में मंदिर टूटते गए

जरा अखिलेश यादव के 5 वर्ष का कार्य देखे

गाज़ियाबाद में 1300 करोड़ में हज हॉउस बनवाया जो विश्व का सबसे बड़ा हज हाउस है
अलीगढ़ में 4 मस्जिदे बनवायी
मुजफ्फरनगर में 2 मस्जिदे बनवाया
सुल्तान पुर में 1 आलीशान मस्जिद बनाया
लखनऊ में 7 मस्जिद बनवाया ।

प्रदेश भर में सैकड़ो मदरसे के निर्माण के लिए 50 करोड़ रूपये का अनुदान दिया ।
2017 में जीतेंगे तो यूपी के सभी जिलों में बनवाएंगे मदरसे मस्जिद और मौलानाओ को देंगे 15 हजार रूपये महीना, जो मौलानाओं की बैठक में वादा किया है ।

हिन्दुओ के लिए एक भी मंदिर नही बनवाय्या
ऊपर से मंदिर तुड़वाया

हिन्दुओ मेरठ में काली माता के मंदिर में घन्टियां बजाना बन्द
मेरठ में 7 मंदिर तुड़वाया
बनारस में 4 मंदिर तुड़वाया
गाजीपुर 9 मंदिर तुड़वाया
बलिया में 3 मंदिर तुड़वाया
लख़नऊ में 3 मंदिर तुड़वाया
और भी शहरी में कई मन्दिरो को तुड़वाया
अपने पाच साल के साशन में 100 से अधिक मन्दिरो को तुड़वाया
इतना तो औरंगजेब भी नही किया होगा जितना ये अखिलेसुद्दीन ने किया । रामभक्तो पर गोली चलवाकर सैकड़ो राम भक्तो को इनके अब्बू मुलायम जिन्हें मुल्ला मुलायम भी कहते है उन्होंने मरवाया , पर अखबार में घोषित करवाया मात्र 26 लोगो को ।

2013 में मुजफ्फरनगर के दंगे में 64 हिन्दुओ को गोली से मरवाया 
अलीगढ़ दंगे में 73 हिन्दुओ को मरवाया
अदि आदि अत्यचार किया

 पिछले पांच साल में 500 से अधिक दंगे , जिसमे मारे गए हिन्दू और पर मुवावजा मिला 5 लाख प्रत्येक मुस्लिम परिवार 
वो आज़म खान के रामपुर का किस्सा हो याद होगा, कैसे शहर के सौन्दर्यकरण के नाम पर दलित हिन्दुओ की बस्तियों को जिसमे मंदिर भी है उसे तोड़ने का आदेश दिया, जिसके बाद दलितों को मजबूरन धर्म परिवर्तन की धमकी देनी पड़ी 

पुरे प्रदेश में निशाना हिन्दू मंदिरो को बनाया गया, जहाँ मस्जिद या मजार है, सड़क वहां से रास्ता मोड़ लेती रही, और मंदिर तोड़ सड़के बनायीं गयी 

उत्तर प्रदेश के बाकी जिलो में दंगे करवाये गए और गिरिफ्तार भी हिन्दुओ को ही करवाया । जिसका जीता जागता उदाहरण गोंडा के भाजपा नेता महेश नारायण तिवारी , मनीष सिंह , अमर किशोर कस्यप ,राकेश तिवारी सहित 20 से अधिक लोग जेल में बन्द रहे 49 दिनों तक । 

और जिन लोगो ने शिव भक्तो (कांवड़ियों) पर पत्थर बरसाए , एक भी नही पकड़े गए , क्योकि वह अखिलेश के सगे वाले जिहादी थे ।

No comments: