loading...
Loading...

Friday, 24 February 2017

हिन्दी बोलने पर उड़ाया मजाक, तो इस बिहारी ने लिख डाली 10 अंग्रेजी नॉवेल

अगर कोई आपको नीचा दिखाता है, तो आपको वो ऐसी सीख देता है, जो कहीं और से मिल ही नहीं सकती. अगर आप इससे पॉजिटिव सीख लेते हैं और आत्मविश्वास से आगे बढ़ते हैं, तो ऐसा कोई दरवाजा नहीं है, जो आपके लिए नहीं खुलेगा. इसका उदाहरण बन चुके हैं, बिहार के नक्सल प्रभावित गया के मल्हारी में रहने वाले सत्यपाल चन्द्र. बारहवीं की पढ़ाई के बाद सत्यपाल दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन और साथ ही आईएएस की तैयारी करने के लिए दिल्ली आए थे.
मज़ाक उड़ाने पर लिख डाले नॉवेल

सत्यपाल ने वो काम किया है, जो देश के युवाओं के लिए आदर्श बन गया है. हिंदी मीडियम से पढ़ाई करने वाले सत्यपाल एक बार दिल्ली के एक रेस्टोरेंट में खाना खाने के लिए गए. वहां पर खाने का ऑर्डर हिंदी में देने पर एक वेटर ने मजाक उड़ाया. तभी से उन्होंने ठान लिया कि अंग्रेजी भी सीखनी ज़रूरी है और कड़ी मेहनत के बाद उन्होंने अंग्रेजी पर अपनी पकड़ बना ली. सत्यपाल को उस वेटर की बात ऐसी खटकी कि उन्होंने अंग्रेजी में 10 नॉवेल लिख डाले.


No comments: