loading...
Loading...

Monday, 23 January 2017

आप आतंकी की लाश को दफ़नाने की जगह जलाएं, 1 दिन में आतंक का धर्म पता चल जायेगा : तारिक फतह

मशहूर लेखक तारिक फतह बड़ी ही बेबाकी से बात करने के लिए जाने जाते है 
उनकी बातें कड़वी होती है, पर अगर सेक्युलर और जिहादी तत्व उनके प्रति नफरत को 1 पल छोड़कर उनकी बात को दिमाग से सोचें तो पाएंगे, की तारिक फतह की बात काफी सटीक होती है 

भारतीय सेक्युलर तत्वों की तारिक फतह हमेशा आलोचना करते है 
चूँकि 1947 से ही भारत में सेक्युलरो का राज रहा है, पर भारत का तो सत्यानाश ही हुआ है, कश्मीर से लेकर केरल और असम बंगाल का उदाहरण हमे बताता है की, सेकुलरिज्म भारत के लिए 
 कितना खतरनाक है 
तारिक फतह ने भारतीय सेक्युलरो को आतंकियों का समर्थक  बता दिया है 
तारिक फतह का कहना है की, आतंकी मजहबी नारे लगाकर, अल्लाह का नाम लेकर, कुरान की आयते ना आने के कारण दूसरों का क़त्ल करते है 
और हमारे लोग टीवी पर बैठकर कहते है की, आतंक का कोई मजहब नहीं होता, आतंकी इन लोगों पर हँसते है, एक तो आतंकी इन्ही लोगों का खून कर रहे है, और ये लोग आतंकियों के बचाव में कहते रहते है की, आतंक का कोई मजहब नहीं होता 
तारिक फतह ने कहा की, भारत के सेक्युलर लोग इतने साल से ये तक नहीं पता लगा पाए की आतंक का कौन सा मजहब है, पर ये पता लगाना कोई मुश्किल काम नहीं है 
बस सेक्युलर तत्व जानबूझकर ये पता ही नहीं लगाना चाहते 

तारिक फतह ने कहा की, आप किसी आतंकी की लाश को दफनाओ मत, उसे जलाओ 
फिर देखो 1 दिन में सैंकड़ो लोग आ जायेंगे और उस आतंकी का मजहब बताने लगेंगे

No comments: